पर्सनल लोन क्या है? | व्यक्तिगत ऋण क्या है?

पर्सनल लोन क्या है? (Personal Loan Kya Hai)

Personal Loan Kya Hai बहुत सारे लोगों को Loan के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त न होने के वजह से उन्हें Personal Loan लेने में घबराहट होती है, वे पर्सनल लोन लेने से डरते हैं या संकोच करते हैं . लेकिन Personal Loan हर इंसान की वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए सबसे Best Loan होता है.

Personal Loan Kya Hai, पर्सनल लोन कितने प्रकार के होते हैं, पर्सनल लोन क्यों लिया जाता है, पर्सनल लोन लेने के क्या फायदे और नुकसान क्या हैं और पर्सनल लोन कैसे मिलेगा? यह सारी जानकारी पाने के लिए इस लेख को पूरा अंत तक पढ़ें – Personal Loan in Hindi.

Personal Loan (व्यक्तिगत ऋण) क्या है (What is Personal Loan in Hindi)

व्यक्तिगत ऋण क्या होता है?

Personal Loan को हिंदी में व्यक्तिगत ऋण कहा जाता है, पर्सनल लोन एक प्रकार का Unsecured Loan है जिसे कोई भी व्यक्ति अपनी निजी जरूरतों को पूरा करने के लिए या अपनी मौजूदा वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए बैंक, वित्तीय संस्थानों या Online Lenders से लेता है.

आपके द्वारा उधार लिया गया पैसा ब्याज के साथ तय समय के अन्दर चुकाना होता है. चूँकि Personal Loan एक Unsecured Loan है इसलिए इसमें ब्याज की दरें भी अधिक होती हैं.

Personal Loan लेते समय आपको ऋणदाता के पास अपनी कोई भी प्रोपर्टी Security के तौर पर गिरवी नहीं रखवानी पड़ती है. ऋणदाता आपके क्रेडिट स्कोर, आपकी इनकम और प्रोपर्टी का आंकलन करके ही Personal Loan प्रदान करवाते हैं.

पर्सनल लोन की ब्याज दरों को प्रभावित करने वाली बातें

बैकअनेक कारकों के आधार पर पर्सनल लोन (Personal loan) की ब्याज दरें तय करता है:

आपका क्रेडिट स्कोर

क्रेडिट स्कोर ये दिखता है कि व्यक्ति को पर्सनल लोन देने में कितना जोखिम है। तो अगर आपक क्रेडिट स्कोर कम है तो बैंक ज़्यादा जोखिम लेने के खामियाज़े के रूप में ज़्यादा ब्याज दरें भी लोन पर लागू कर देगा। इसलिए, हमेशा सलह दी जाती है कि 750 या ज़्यादा का क्रेडिट स्कोर बनाएं रखें।

आपकी मासिक इनकम

बैंक मानते हैं कि जिस आवेदक की इनकम ज़्यादा होगी वो लोन का भुगतान समय पर कर पाएगा। इसलिए, जिन लोगों की इनकम ज़्यादा होती है उन्हें पर्सनल लोन जल्दी और कम बताय दरों पर मिल जाता है।

कहाँ काम करते हैं

पर्सनल लोन की ब्याज दरें तय करते समय ये भी देखते हैं कि आप कहाँ काम करते है और क्या काम करते हैं। प्रतिष्ठित संस्थानों में काम करने वाले व्यक्तियों को तुलनात्मक रूप से जल्दी और बेहतर ब्याज दरों पर लोन मिल जाता है। सरकारी नौकरी करने वाले लोगों को भी उनकी जॉब सिक्योरिटी की वजह से बेहतर ब्याज दरों पर्सनल लोन मिल जाता है।

बैंक के साथ आपका संबंध

अगर आपका किसी बैंक के साथ अच्छा और पुराना संबंध हैं और आपने पहले भी लोन का भुगतान समय पर किया है तो बैंक अन्य के मुकाबले आपको आसान शर्तों व कम ब्याज दरों पर लोन दे सकता है। बैंक के मौजूदा ग्राहकों को प्री-अप्रूव्ड लोन ऑफर भी मिल सकते हैं।

पर्सनल लोन के प्रकार (Type of Personal Loan in Hindi)

वैसे तो पर्सनल लोन अधिकतर Unsecured होते हैं लेकिन कई संस्थाएं ऐसी भी हैं जो पर्सनल लोन देते समय Collateral के रूप में आपकी कोई वस्तु गिरवी रख सकती है. इस आधार पर हम पर्सनल लोन को दो भागों में बाँट सकते हैं.

Secured Personal Loan (सुरक्षित व्यक्तिगत ऋण)

एक सिक्योर्ड पर्सनल लोन वह होता है जिसमें ऋणदाता को लोन देते समय Collateral के रूप में किसी वस्तु की आवश्यकता होती है. Collateral ऋण लेने वाले की कोई भौतिक सम्पति जैसे कि बचत खाता, घर, कार, नाव आदि हो सकते हैं. लोन न चुका पाने की स्थिति में ऋणदाता आपकी भौतिक सम्पति के द्वारा ऋण के भरपाई कर सकते हैं.

अर्थात सिक्योर्ड पर्सनल लोन किसी भौतिक सम्पति के द्वारा Protected रहते हैं.

Unsecured Personal Loan (असुरक्षित व्यक्तिगत ऋण)

अनसिक्योर्ड पर्सनल लोन वह होता है जिसमें Collateral के रूप में किसी वस्तु की आवश्यकता नहीं पड़ती है. कोई बैंक, यूनियन क्रेडिट या ऑनलाइन ऋणदाता अनसिक्योर्ड पर्सनल लोन आपकी बचत, इनकम, सम्पति, क्रेडिट स्कोर, और अपने शर्तों के आधार पर Provide करवाते हैं.

अनसिक्योर्ड पर्सनल लोन किसी भी प्रकार की भौतिक सम्पति के द्वारा संरक्षित नहीं होते हैं. अधिकतर बैंक, यूनियन क्रेडिट और ऑनलाइन ऋणदाता अनसिक्योर्ड पर्सनल लोन प्रदान करवाते हैं.

पर्सनल लोन क्यों लेते हैं (Reason of Taking Personal Loan in Hindi)

पर्सनल लोन लेने के अनेक कारण हो सकते हैं जैसे कि –

  • मौजूदा वित्तीय जरूरतों को पूरा करना.
  • अपने घर में छोटे – मोटे सुधार करवाना.
  • कोई महंगी चीज की खरीददारी करना.
  • खुद के ऊपर निवेश करना.
  • अपने व्यवसाय को सुचारू रूप से चालू रखना.
  • अपने परिवार या दोस्तों के साथ कहीं घुमने जाना.
  • शादी – विवाह या पार्टी के लिए पर्सनल लोन ले सकते हैं.
  • किसी आपातकालीन स्थिति में.
  • क्रेडिट कार्ड के बिल को भरने के लिए.
  • कुल मिलाकर कहें तो अपनी निजी जरूरतों को पूरा करने के लिए कोई भी वयक्ति पर्सनल लोन लेता है.

बैंकों द्वारा पर्सनल लोन के प्रकार

वैडिंग लोन

भारत में शादियों का खर्च अक्सर बहुत ज़्यादा होता है और अपनी सारी जमापूंजी को शादी पर खर्च कर देना समझदारी नहीं है। इसलिए, आप शादी के लिए वैडिंग लोन ले सकते हैं, ये प्रकार लोन का ही एक प्रकार है।

हायर एजुकेशन लोन

आप विदेश में पढ़ाई के लिए अपने, अपने बच्चों या अपने पति-पत्नी के लिए ये पर्सनल लोन (Personal loan) ले सकते हैं। इस लोन का उपयोग आप कॉलेज की फीस, फ्लाइट टिकट, वीज़ा, वहां रहने के खर्च और आदि के लिए कर सकते हैं।

मेडिकल लोन

अगर अचानक कोई मेडिकल इमरजेंसी आ जाती है और आपके या आपके परिवार के पास मेडिकल इंश्योरेंस नहीं है तो आप मेडिकल खर्च के लिए पर्सनल लोन ले सकते हैं।

होम रेनोवेशन लोन

लोग अपनी सुविधा के लिए अपने घरों में बदलाव कराते रहते हैं और इसमें खर्च की कोई सीमा नहीं है। आप होम रेनोवेशन के लिए पर्सनल लोन ले सकते हैं और अपने घर को बेहतर बना सकते हैं।

ट्रेवल लोन

आप अपने परिवार के साथ छुट्टियाँ मनाने या विदेश में घूमने के लिए पर्सनल लोन ले सकते हैं। आप अपने देश में भी कहीं घूमने या हनीमून या क्रूस पर जाने के लिए भी ये लोन ले सकते हैं।

डेट कंसोलिडेशन लोन

अगर आप कई छोटी ईएमआई का भुगतान कर रहे हैं, तो आप डेट कंसोलिडेशन लोन लेकर उन सभी लोन का भुगतान कर सकते हैं और फिर केवल इस पर्सनल लोन की एक ईएमआई चुका सकते हैं।

पर्सनल लोन के फायदे (Advantage of Personal Loan in Hindi)

पर्सनल लोन लेने के अनेक फायदे होते हैं जैसे कि –

  • वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्सनल लोन सबसे दमदार लोन है.
  • पर्सनल लोन आपको किसी भी बैंक, यूनियन क्रेडिट या वित्तीय संस्थानों से आसानी से प्राप्त हो जाता है.
  • अनसिक्योर्ड पर्सनल लोन में आपकी कोई वस्तु ऋणदाता के पास Collateral के रूप में नहीं रहती है.
  • अपने निजी खर्चों में तालमेल बैठाने के लिए पर्सनल लोन फायदेमंद साबित होते हैं.

पर्सनल लोन के नुकसान (Disadvantage of Personal Loan in Hindi)

पर्सनल लोन के कुछ नुकसान भी हैं जैसे कि –

  • पर्सनल लोन में ब्याज की दरें अधिक होती हैं.
  • अनसिक्योर्ड पर्सनल लोन में ऋणदाता को जोखिम रहता है क्योकि उनके पास Collateral के रूप में आपकी कोई वस्तु नहीं होती है.
  • पर्सनल लोन Long Term के लिए नहीं मिलते हैं.

बैंकों की पर्सनल लोन ब्याज दरों की तुलना

नीचे दी गई टेबल में भारत के मुख्य बैंकों और NBFC की पर्सनल लोन ब्याज दरों की तुलना की गई है:

बैंक/लोन संस्थानब्याज दर (प्रतिवर्ष)प्रोसेसिंग फीस* (₹)
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया9.60% – 13.85%1.5% तक
HDFC बैंक10.25% से शुरू2.5% तक
पंजाब नेशनल बैंक7.90% –  14.45%0.90% तक
ICICI बैंक10.50% से शुरू2.5% तक
बैंक ऑफ बड़ौदा10.00% – 15.60%2%
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया8.90% – 13.00%0.50%
ऐक्सिस बैंक10.25% से शुरू1.5% तक
बैंक ऑफ इंडिया9.35% – 12.35%2% तक
इंडियन बैंक8.50% – 9.00%1% तक
कोटक महिंद्रा बैंक10.25% से शुरू2.50% तक
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया8.45% – 10.05%₹500 तक
इंडसइंड बैंक11.00% से शुरू3% तक
IDBI बैंक9.50% – 14.00%1% तक
यस बैंक10.99% से शुरू2.5% तक
UCO बैंक10.05% – 10.45%1% तक
फेडरल बैंक10.49% – 17.99%3% तक
बैंक ऑफ महाराष्ट्र9.45%-11.80%1% तक
IDFC फर्स्ट बैंक10.49% से शुरू2.5% तक
बजाज फिनसर्व13.00% से शुरू4% तक
RBL बैंक14.00% से शुरू3.5% तक
मुथूट फाइनेंस14.00% से शुरू3.5% तक
सिटी बैंक9.99% – 16.49%3% तक
टाटा कैपिटल10.99% से शुरू2.75% तक
स्टैण्डर्ड चार्टर्ड बैंक11.49% से शुरू1%
HSBC बैंक9.50% – 15.25%1% तक
स्टैशफिन11.99% से शुरू10% तक
फुलर्टन इंडिया11.99% से शुरू6% तक
फेयरसेंट12.00% से शुरू8% तक
क्रेडिटबी12.24% से शुरू6% तक
मनीव्यू15.96% से शुरू 2% से शुरू
पेसेंस16.80% से शुरू2.5% तक
अर्ली सैलरी18.00% से शुरू2%
होम क्रेडिट24.00% से शुरू5% तक
CASHe27.00% से शुरू₹1200 या 3% तक
HDB फाइनेंशियल सर्विसेज36% तक3% तक
Clix Capitalलोन अग्रीमेंट के मुताबिक10% तक
कृप्या नोट करें: ब्याज दरें, 5 Dec 2021 के मुताबिक है। पर्सनल लोन की ब्याज दरें बिना किसी सूचना के कभी भी बदल सकती हैं।

पर्सनल लोन कैसे मिलेगा?


आप देश में सभी छोटे या बड़े बैंक, वित्तीय संस्थान या ऑनलाइन Lender से पर्सनल लोन ले सकते हैं और सभी बैंकों और वित्तीय संस्थानों की पर्सनल लोन देने के नियम और प्रक्रिया अलग – अलग होती है. इसलिए जब भी आप पर्सनल लोन के लिए Apply करें तो पहले आप सम्बंधित बैंक और वित्तीय संस्थानों के Process और Terms and Condition को अच्छे से समझ लें तभी पर्सनल लोन के लिया Apply करें.

पर्सनल लोन (व्यक्तिगत ऋण) लेने कैसे ले

पर्सनल लोन लेने का सबसे बढ़िया स्थान है आपका Current Bank, मतलब जिस बैंक में आपका Account है वहां से आप Personal Loan के लिए Apply करें तो यह आपके लिए फायदे मंद हो सकता हैं. क्योकि बैंक में आपके पुराने सम्बन्ध हैं और आपका बैंकर आपको सही सलाह दे सकता है.

इसके अलावा बहुत सारी Online कंपनी है, वित्तीय संस्थान हैं जहाँ से आप Personal Loan 48 से 72 घंटों के अन्दर प्राप्त कर सकते हैं.

पर्सनल लोन लेते समय ध्यान में रखने वाली बातें

जब भी आप पर्सनल लोन के लिए Apply करते हैं तो आपको निम्न बातों को ध्यान रखना बहुत जरुरी है.

  • ब्याज की दरें – पता कर लें कि सम्बंधित बैंक या वित्तीय संस्थानों किस ब्याज दर पर पर्सनल लोन दे रहे हैं
  • लोन की राशि – आपकी वित्तीय स्थिति को देखकर ही देती है जिनती आपको जरुरत है उतना ही आप लोन लें.
  • Repayment – जहाँ से आप पर्सनल लोन ले रहे हैं उनके लोन चुकाने की शर्तों को Repayment की शर्तों को सही से समझें.
  • Collateral – लोन लेते समयध्यान में रखें कि जिसे भी बैंक या वित्तीय संस्थान से आप लोन ले रहें हैं वह Collateral के रूप में आपकी कोई सम्पति रखेगी या नहीं.
  • आवश्यक दस्तावेज –बैंक और वित्तीय संस्थान पर्सनल लोन देते समय आपके कुछ दस्तावेजों को मांगती हैं आप यह पता कर लें कि आपको पर्सनल लोन Apply करने के लिए कौन से दस्ववेजों की जरुरत पड़ेगी.
  • लोन लेने के लिए सीधे बैंक या वित्तीय संस्थान जाकर ही Apply करें, किसी एजेंट से संपर्क न करें.

लोन लेने से पहले बैंक या वित्तीय संस्थानों के नियम, शर्तों को अच्छे से समझ लें.

Loan Agreement को अच्छे से पढ़ लें जहाँ पर आपको समझ नहीं आता है किसी जानकर की सलाह लें.

पर्सनल लोन के लिए कैसे Apply करें

पर्सनल लोन के लिए Apply करने के लिए पहले आपको सम्बंधित बैंक और वित्तीय संस्थान में जाना पड़ता है और एक Application भरनी होती है, उसके बाद वे आपका एप्लीकेशन Check करते हैं कि आपको पर्सनल लोन दिया जा सकता है या नहीं.

Application Accept होने पर आपको लोन की शर्तें दी जाती है जिसे आप स्वीकार भी कर सकते हैं और अस्वीकार भी. स्वीकार करने पर आपको कागजी करवाई पूरी करनी होती है.

यह सारी प्रक्रिया को पूरा करने के बाद लोन 24 से 48 घंटे के अन्दर आपके खाते में आ जायेगा या फिर चेक के माध्यम से आपको लोन दिया जाएगा.

FAQ For Personal Loan in Hindi

पर्सनल लोन कितना तक मिल सकता है?

पर्सनल लोन आपको आपकी वित्तीय स्थिति और इनकम के आधार पर मिलता है, सभी बैंक और वित्तीय संस्थानों के पर्सनल लोन देने के नियम और शर्ते अलग – अलग होती हैं.

पर्सनल लोन कितने प्रकार के होते हैं?

पर्सनल लोन दो प्रकार के होते हैं – Secured Personal Loan और Unsecured Personal Loan. सभी बैंक और वित्तीय संस्थान दोनों प्रकार के पर्सनल लोन provide करवाते हैं.

पर्सनल लोन पर कितना ब्याज लगता है?

अलग – अलग बैंक और वित्तीय संस्थान की पर्सनल लोन पर ब्याज दरें अलग – अलग होती हैं.

पर्सनल लोन लेने के लिए न्यूनतम कितना क्रेडिट स्कोर होना चाहिए?

र्सनल लोन लेने के लिए न्यूनतम कितना क्रेडिट स्कोर होना चाहिए?
उत्तर: ये बैंक की शर्तों पर निर्भर करता है। ज़्यादातर बैंक/ लोन संस्थान पर्सनल लोन के लिए न्यूनतम क्रेडिट स्कोर (Credit Score for Personal Loan) तय नहीं करते हैं। कुछ लोन संस्थान कम क्रेडिट स्कोर (750 से कम) वाले व्यक्तियों को पर्सनल लोन दे देते हैं लेकिन भारी ब्याज वसूलते हैं।

पर्सनल लोन के लिए न्यूनतम सैलरी कितनी होनी चाहिए?

एक बैंक से दूसरे बैंक पर निर्भर करता है। वैसे , बड़े बैंकों में पर्सनल लोन अप्लाई करने के लिए मासिक आय 25000 रु. प्रतिमाह या ज़्यादा होनी चाहिए। कुछ फिनटेक कम आय वाले लोगों को भी पर्सनल लोन प्रदान करते हैं।

क्या एक छात्र पर्सनल लोन के लिए अप्लाई कर सकता है?

आमतौर, छात्र पर्सनल लोन के लिए योग्य नहीं होते हैं, क्योंकि इसके लिए स्थाई आय और अच्छा क्रेडिट स्कोर चाहिए। वैसे , अगर आपके पास स्थाई आय है और बैंक की योग्यता शर्तों को पूरा करते हैं तो आप पर्सनल लोन ले सकते हैं।

क्या एक स्वयं-रोज़गार पर्सनल लोन (Personal Loan) के लिए अप्लाई कर सकता है?

हाँ, स्वयं-रोज़गार जैसे डॉक्टर, बिज़नेसमैन, चार्टर्ड अकाउंटेंट, आदि पर्सनल लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसके अलावा, कई बैंक और NBFC बिज़नेसमैन, डॉक्टर और चार्टर्ड अकाउंटेंट के लिए विशेष पर्सनल लोन ऑफर प्रदान करते हैं।

क्या मुझे पर्सनल लोन के लिए सबसे कम EMI का विकल्प ही चुनना चाहिए?

आपके लोन की EMI राशि आपकी भुगतान क्षमत पर निर्भर करता है, EMI राशि उतनी ही चुने जिसका भुगतान आप बिना किसी बाधा या ब्रेक के पूरी लोन अवधि के दौरान कर पाएं। हालाँकि, कम EMI राशि में अक्सर लोन भुगतान अवधि लम्बी होती है जिसके कारण आपको लम्बे समय में ज़्यादा ब्याज बैंक को देना पड़ता है।

क्या मुझे बिना सैलरी स्लिप के पर्सनल लोन मिल सकता है?

हाँ, आपको बिना सैलरी स्लिप के पर्सनल लोन (Personal Loan without Salary Slip)) मिल सकता है। आपके केवल अपना बैंक अकाउंट स्टेटमेंट/ फॉर्म 16 की कॉपी/ एम्प्लोयी सर्टिफिकेट, आदि को आय प्रमाण पत्र के रूप में जमा करना होगा।


Personal Loan क्या है हिंदी में

इस लेख के माध्यम से हमने आपको Personal Loan kya hai की पूरी जानकारी दी है जो आपके लिए फायदेमंद साबित होगी. लोन के लिए Apply करने से पहले सम्बंधित बैंक और वित्तीय संस्थानों की प्रक्रिया, नियम और शर्तों को अच्छे से समझ लें.