प्रधान मंत्री रोजगार योजना | PM Rojgar Yojana (PMRY Loan kaise milega)

प्रधान मंत्री रोजगार योजना

इस योजना के जरिए जो भी लोग कारोबार करना चाहते हैं उन्हे बैंको के माध्यम से कम ब्याज दरों पर लोन दिया जाएगा। इस योजना के तहत आप किसी भी तरह के कारोबार करना चाहते हैं। लेकिन आपके पास धन की कमी है, तो आप प्रधानमंत्री योजना के तहत लोन ले सकते हैं और खुद का कारोबार शुरू कर सकते हैं।

आज देश में न जाने कितने ही लोग खुद का कारोबार करना की सोचते तो हैं, पर कर नहीं पाते। इसके अलावा अगर कुछ लोग कोशिश करते भी हैं तो निजी बैंकों द्वारा लिया गए बिजनेस लोन का ब्याज उनके लिए मुसीबत का कारण बन जाता है। ऐसे में PM Rojgar Loan Yojana के तहत लोगो को रोजगार का बेहतर अवसर दिया जा रहा है, इसमें बेरोजगारो को सस्ते ब्याज दर पर कारोबार करने के लिए लोन दिया जाएगा। इससे देश में बेरोजगारी तो घटेगी ही, साथ ही देश के लोग नौकरी लेने की बजाय देने लायक बन जाएंगे।

PMRY का लक्ष्य 2 साल 6 महीने में सेवा और व्यापर क्षेत्र में 7 लाख छोटे व्यवसायों की स्थापना करना है। छोटे उद्योग (SSI) का उद्देश्य स्थानीय संसाधनों का उपयोग करना, उत्पादन के लिए टेक्नोलॉजी का उपयोग करना होता है। ये उद्योग और स्थानीय बाज़ार से लाभ कमाते हैं।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना को जमीनी स्तर पर सही तरीके से उतारा जा सके इसके लिए जिला उद्योग केंद्र और उद्योग निदेशालय को अहम जानकारियां सौंपी गई हैं।

                                          PMRY – विशेषताएं व योग्यता शर्तें
आयु18 से 35 वर्ष के सभी साक्षर लोगों के लिए
शैक्षणिक योग्यताएं8वीं पास
ब्याज़ दरसामान्य ब्याज़ दर
भुगतान का समयमोराटोरियम पीरियड के बाद 3 से 7 साल तक
पारिवारिक इनकम लाभार्थी और पत्नी व उसके माता/पिता की कुल इनकम 40,000/ माह से अधिक न हो
निवास3 साल से अधिक उस स्थान का निवासी
डिफॉल्टरकिसी भी राष्ट्रीयकृत फाइनेंशियल संस्थान/ बैंक/ सहकारी बैंक का डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए
सब्सिडी व मार्जिन मनीप्रोजेक्ट की लागत के 15% तक सब्सिडी सीमित होगी। एक व्यक्ति को अधिकतम 7,500 रु. तक
गिरवी1 लाख रु. तक के प्रोजेक्ट के लिए कुछ गिवरी रखने की ज़रूरत नहीं है.
आरक्षणदलित (SC/ST), महिलाएं

सिर्फ एक क्लिक करें और सबसे बेहतर SME/MSME लोन ऑफर पाएंअभी अप्लाई करें

प्रधान मंत्री रोजगार योजना के लिए योजना की विशेषताएं

  • PMRY केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजना है
  • अपने व्यवसाय की स्थापना सुनिश्चित करने के लिए 15-20 दिनों के लिए लाभार्थियों को प्रशिक्षण दिया जाता है
  • इस योजना का प्रमुख निकाय लघु , ग्रामीण और कृषि उद्योग मंत्रालय के तहत विकास आयुक्त है
  • आयुक्त/ निदेशक उद्योग देश के चार महानगरों को छोड़कर राज्य स्तर पर इस योजना को लागू करते हैं
  • हर तिमाही, राज्य स्तरीय PMRY समिति,योजना की प्रगति की जांच करती है
  • इस योजना की कार्यान्वयन एजेंसियां देश के महानगरीय शहर हैं
  • छोटे चाय बागानों, मछली पालन, मुर्गी पालन, सूअर पालन और बागवानी के क्षेत्रों को बढ़ाना
  • लाभार्थी के व्यवसाय के आरंभ के लिए आसान समान मासिक किस्तें (EMI)

उत्तर पूर्वी क्षेत्र के लिए राहत मानदंड और उपाय

  • 15% की दर से सब्सिडी अधिकतम 15,000 रु.
  • 2 लाख रु. तक की लागत वाले प्रोजेक्ट के लिए सहायता
  • मार्जिन परियोजना की लागत का 5% से 12.5% तक हो सकती है।

PMRY Loan Interest Rate | प्रधानमंत्री रोजगार योजना ब्याज दर

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत रिजर्व बैंक द्वारा समय समय पर जारी किए गए निर्देश के मुताबिक ही ब्याज लगाया जाता है। ताजा समय में अगर आप इस योजना के माध्म से लोन लेते हैं तो 25 हजार रुपए पर आपको 12 प्रतिशत ब्याज भरना पड़ेगा वंही 25000 से 1 लाख तक की रकम पर ब्याज दर 15.5 वसूला जाएगा। इसके अलावा अगर लोन की रकम अधिक होगी तो ब्याज दर और अधिक हो जाएगा।

PMRY में कितना मिल सकता है लोन

इस योजना के तहत अलग अलग क्षेत्र के हिसाब से अधिकतम लोन की रकम तय की गई है। प्रधानमंत्री रोजगार योजना में सेवा क्षेत्र और उद्योग क्षेत्र के लिए दो लाख रुपए की अधिकतम लोन रकम तय की है। वंही कारोबार क्षेत्र के लिए 1 लाख रूपए और कार्यकारी पूंजी के लिए 10 लाख रूपए तक की अधिकतम रकम अदा की जा सकती है।

ELIGIBILITY CRITERIA | प्रधान मंत्री रोजगार योजना के लिए पात्रता

  • योजना का लाभ उठाने के लिए आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष तक ही होनी चाहिए। वंही महिलाओं, पूर्व सैनिक, विक्लांग, एससी/एसटी कैटगरी के लोगों के लिए इसमें 10 साल की उम्र की छूट दी गई है, यानी यह लोग 35 की उम्र के बाद भी अगले 10 साल तक आवेदन कर सकते हैं।
  • योजना का आवेदन करने वाले व्यक्ति की पारिवारिक मासिक आय 40 हजार से अधिक न हो।
  • अगर आपके पास प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तकनीकी ज्ञान का प्रमाण पत्र है, तो भी आप इस योजना में आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना में आवेदन करने वाला व्यक्ति कम से कम आठवी पांस हो, साथ ही उसके पास आठवी पास का प्रमात्र पत्र होना अनिवार्य़ है
  • अगर आप आवेदन करना चाहते हैं, तो जिस भी स्थान से आप आवेदन करें, वंहा आप कम से कम 3 सालों से जरूर रह रहे हों।
  • आवदेन करने वाले व्यक्ति ने पहले से किसी भी सरकारी बैंक से लोन न ले रखा हो।

PMRY योजना में बदलाव

  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति और महिलाओं के लिए आयु सीमा 35 वर्ष से 45 वर्ष कर दी गई है
  • योजना के तहत शैक्षिक योग्यता 10 वीं से कक्षा से घटाकर 8 वीं कक्षा तक कर दी गई है
  • प्रति प्रोजेक्ट लागत की अधिकतम सीमा भी 1 लाख रु. से बढ़ाकर 2 लाख रु. तक कर दी गई है
  • योजना कृषि और संबद्ध गतिविधियों को कवर करेगी और प्रत्यक्ष कृषि कार्यों को शामिल करेगी, जैसे खाद और इसकी खरीद, फसल उगाना, आदि
  • प्रति समूह को अधिकतम 5 लाख रुपये तक मिल सकते हैं
  • भारत के सात पूर्वोत्तर राज्यों में आयु सीमा 40 वर्ष तक बढ़ाई गई है।

PMRY के लिए आवश्यक दस्तावेज

प्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMRY) के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेज आवश्यक हैं:

  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • EDP ट्रेनिंग सर्टिफिकेट
  • प्रस्तावित प्रोजेक्ट प्रोफाइल की एक कॉपी
  • अनुभव, योग्यता, तथा अन्य सर्टिफिकेट
  • जन्मतिथी का प्रमाण (SSC सर्टिफिकेट या स्कूल TC )
  • 3 साल के आवास का प्रमाण, राशन कार्ड या अन्य
  • MRO (मंडल रेवेन्यु ऑफिसर) के द्वारा जारी इनकम सर्टिफिकेट
  • जाति सर्टिफिकेट (अगर आरक्षण का लाभ लेना चाहते हैं तो)

इसे भी पढ़ें: 2022 में महिलाओं या गृहिणियों के लिए 10 रोजगार या बिजनेस आइडियाज

PMRY योजना में कवर की जाने वाली प्रोजेक्ट राशि

सेक्टरप्रोजेक्ट लागत
बिज़नेस सेक्टर₹ 2 लाख
सर्विस सेक्टर₹ 5 लाख
उघोग सेक्टर₹ 5 लाख

PMRY के लिए कैसे आवेदन करें

स्टेप 1: PMRY की वेबसाइट पर जाएं।

स्टेप 2: आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें व उसमें सही जानकारी भरें

स्टेप 3: फॉर्म को उस बैंक में सबमिट करें जो PMRY के तहत आता है, जिसके बाद संबंधित बैंक आपसे सम्पर्क करेंगा।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें । PMRY Loan 2021, Online form

योजना के लिए आवेदन करने हेतु आप ऑफिशियल साइट पर जाएं या फिर आप इस लिंक पर क्लिक करें http://dcmsme.gov.in/publications/forms/pmryform.html

लिंक पर क्लिक करने के बाद एक फॉर्म दिखाई देगा, आप उस फॉर्म पर पूछी गई सभी जानकारियों को पूरी तरह भर कर फॉर्म सब्मिट कर दें

PMRY चयन प्रक्रिया होगी ऐसी

  • योजना में आवेदको की चयन के लिए जिला स्तरीय द्वारा आवेदको का इंटरव्यू लिया जाएगा।
  • इंटरव्यू में पास किए गए आवेदको के फॉर्म को बैंकों के पास जांच और स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत किस आवेदक को लोन दिया जाएगा इसे तय करने का अधिकार बैंक के पास ही होगा।
  • इन सभी स्तर पर पास होने के बाद स्वीकृति आवेदको को बैंक द्वारा पूंजी दी जाएगी। लोन की महज 15 प्रतिशत राशि या अधिकतम 7500 रूपए ही नकद दिए जाएंगे।
  • अपने बिजनेस का 5 प्रतिशत धन आवेदक को ही लगाना पड़ेगा।
  • लोन की रकम अगर 6 से 8 महीने के भीतर वापिस करने पर ब्याज दर नहीं लगाया जाएगा। वंही इस समय को पार करने के बाद बैंक ब्याज सहित लोन की रकम वसूलेगा। लोन की रकम को चुकान के लिए 3 से 7 वर्ष तक का समय दिया जा सकता है।

संबंधित सवाल

प्रश्न. प्रधानमंत्री रोज़गार योजना (PMRY) के लिए कितनी आयु होनी चाहिए?
उत्तर:
 आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए। अगर आवेदक उत्तर-पूर्वी राज्यों से है तो अधिकतम आयु 40 वर्ष है और SC / ST वर्ग के लिए आयु सीमा 45 वर्ष है।

प्रश्न. PMRY के तहत नॉमिनेशन के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता क्या है?
उत्तर: इसके लोए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 8वीं कक्षा है।

प्रश्न. क्या किसी सिक्योरिटी/कोलेटरल जमा करने की कोई आवश्यकता है?
उत्तर: 1 लाख रु. तक के प्रोजेक्ट के लिए सिक्योरिटी/गारंटी की आवश्यकता नहीं है।

प्रश्न. PMRY के तहत दी जाने वाली सब्सिडी कितनी है?
उत्तर: PMRY के तहत दी जाने वाली सब्सिडी प्रोजेक्ट लागत का 15% है, अधिकतम 7500 रु.।

प्रश्न. PMRY के लिए आवेदक की आय कितनी होनी चाहिए?
उत्तर:
 PMRY के लिए आवेदक की वार्षिक पारिवारिक आय 40,000 रु. से अधिक नहीं होनी चाहिए।

प्रश्न. PMRY के तहत भुगतान शेड्यूल क्या है?
उत्तर:
 प्रारंभिक मोरेटोरियम अवधि के बाद आवेदक 3 से 7 वर्ष के बीच भुगतान कर सकता है।

प्रश्न. उधारकर्ताओं को ट्रेनिंग कब तक प्रदान की जाती है?
उत्तर:
 ट्रेनिंग 15-20 दिनों के लिए प्रदान की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उनके व्यवसाय व्यवस्थित हो जाएं और शुरू हो जाएं।